yaksha

yaksha

 2 years ago

Member since Sep 17, 2018 shivacentre@gmail.com

Following (0)

Followers (0)

शिव की मानस पूजा

मन द्वारा कल्पित सामग्री द्वारा की जाने वाली पूजा को ‘मानस पूजा’ कहा जाता है। इस मानसिक पूजा को सामान्य पूजन से हजार गुणा अधिक महत्वपूर्ण...

Read More

कल्याणरूप शिवतत्व

आनंदमय स्वरूपधारी शिव समस्त जग के कल्याणरूप शिवतत्व हैं। परात्पर सच्चिदानन्द परमेश्वर शिव एक हैं, विश्वातीत हैं और विश्वमय भी हैं।...

Read More

जगदगुरु शिव

श्रीशिव के प्रति असंख्य प्राणियों की अगाध श्रद्धा इस बात का स्वतः ही परिचायक है कि वह समस्त कल्याण कारी व जगत पूजनीय हैं। श्रीशिव...

Read More

वेदों में शिवतत्व

शिवतत्व तो एक है ही है- ‘एकमेवाद्वितीयं ब्रह्मा’, उस अद्वय-तत्व के अतिरिक्त और कुछ है ही नहीं- ‘एकमेव सत्। नेह नानास्ति किंचन।’ किन्तु...

Read More

लिंगमहापुराण और भगवान शिव

लिंग पुराण में  शिव अविनाशी, परब्रह्मा, निर्दोष, सर्वसृष्टि के स्वामी, निर्गुण, अलख, ईश्वरों के भी ईश्वर, सर्वश्रेष्ठ, विश्वम्भर और...

Read More

विज्ञान की नजर में त्रिपुंड

ललाट अर्थात माथे पर भस्म या चंदन से तीन रेखाएं बनाई जाती हैं उसे त्रिपुंड कहते हैं। हथेली पर चन्दन या भस्म को रखकर तीन उंगुलियों की...

Read More

शिवलिंग पूजा

सभी भगवानों की पूजा मूर्ति के रूप में की जाती है, लेकिन भगवान शिव ही है जिनकी पूजा लिंग के रूप में होती है। शिवलिंग की पूजा के महत्व...

Read More

This site uses cookies. By continuing to browse the site you are agreeing to our use of cookies Find out more here